हिंदी हेल्थ टिप्स https://hindihealthtips.in Find Health Tips, Beauty Tips, Gharlu Nuskhe, Ayurvedic Upchar Sun, 04 Apr 2021 06:49:46 +0000 en-US hourly 1 https://wordpress.org/?v=5.8.1 https://hindihealthtips.in/wp-content/uploads/2020/12/cropped-20201212_120013_0000-32x32.png हिंदी हेल्थ टिप्स https://hindihealthtips.in 32 32 109354118 भारगव का मतलब और राशि हिंदी में Bhargav meaning aur Rashi in Hindi https://hindihealthtips.in/meaning-of-bhargav-bhargav-meaning-aur-rashi-in-hindi/.html https://hindihealthtips.in/meaning-of-bhargav-bhargav-meaning-aur-rashi-in-hindi/.html#respond Sun, 04 Apr 2021 06:33:53 +0000 https://hindihealthtips.in/?p=1156 Read more

]]>
Bhargav meaning aur Rashi in Hindi भारगव का अर्थ हिंदी में – meaning of bhargav

भारगव मतलब भगवान शिव चमक बन्ना शिव का एक विशेषण शुक्र ग्रह एक अच्छा इसका ऐसा मतलब होता है।Bhargav meaning aur Rashi in Hindi

राशि – धनु

धर्म –  हिंदू

लिंग – लड़का

Bhargav meaning aur Rashi in Hindi
Bhargav meaning aur Rashi in Hindi

भारगव नाम की राशि हिंदी में Bhargav Naam ka rashifal in Hindi

meaning of bhargav

धनु राशि का स्वामी ग्रह बृहस्पति को माना जाता है धनु राशि के आराध्य देव दत्तात्रेय है धनु राशि के भार्गव नाम के लड़के जांघों और नितंबों और धमनियों के रोगों से पीड़ित रह सकते हैं भार्गव नाम के लड़कों में चर्बी ज्यादा होती है हिना भार्गव नाम के लड़कों में लीवर और नजर कमजोर होती है और रीढ़ की हड्डी संबंधी इन की समस्याएं होती है भार्गव नाम के लड़के एडवेंचर के लिए काम करने और सीखने के लिए तत्पर होते हैं भार्गव नाम के लड़के भगवान में आस्था रखने वाले होते हैं इनमें धार्मिक स्थलों में घूमना इनको ज्यादा अच्छा लगता है।Bhargav meaning aur Rashi in Hindi

भारगव नाम का मतलब हिंदी में Bhargav ka Arth in Hindi

अगर आप अपने बच्चों का नाम भार्गव रखना चाहते हैं तो यह रखने की सोच रख रहे हैं तो पहले उसका आपको मतलब जानना जरूरी होता है आपको बता दें कि भाड़ को का मतलब होता है कि भगवान शिव चमक बन्ना दुगो शिव का एक विशेषण शुक्र ग्रह एक अच्छा आरक्षण ऐसा इसका मतलब होता है भार्गव नाम का खास महत्व यह है कि यह भगवान शिव शिव का एक विशेष है जो काफी अच्छा माना जाता है शास्त्रों में भार्गव नाम को आप काफी अच्छा माना जाता है इसका मतलब है कि भगवान शिव शिव का एक विशेषण लोगों को यह काफी पसंद आता है भार्गव नाम का बच्चा का भी होता है और सहमति भी होता है।Bhargav meaning aur Rashi in Hindi

]]>
https://hindihealthtips.in/meaning-of-bhargav-bhargav-meaning-aur-rashi-in-hindi/.html/feed 0 1156
कपालभाति प्राणायाम करने का सही तरीका और उसके फायदे हिंदी में kapalbhati Pranayam steps and benefits in Hindi https://hindihealthtips.in/kapalbhati-pranayam-steps-and-benefits-in-hindi/.html https://hindihealthtips.in/kapalbhati-pranayam-steps-and-benefits-in-hindi/.html#respond Thu, 01 Apr 2021 06:25:30 +0000 https://hindihealthtips.in/?p=1143 Read more

]]>
कपालभाति kapalbhati Pranayam steps and benefits in Hindi  का भी एक अभ्यास होता है संस्कृत शब्दों में कपाल का मतलब होता है कि ललाट और बाती का अर्थ होता है प्रकाश इसका अर्थ बोध मतलब कि न्याय होता है अंत में कपालभाति एक अभ्यास है जो मस्तिष्क के आगे के भाग में प्रकाश लाता है और इसका दूसरा नाम होता है कपाल शोधन शोधन का अर्थ शुद्ध करना ऐसा होता है।

कपालभाति प्राणायाम करने का सही तरीका और उसके फायदे हिंदी में kapalbhati Pranayam steps and benefits in Hindi

kapalbhati Pranayam steps and benefits in Hindi
kapalbhati Pranayam steps and benefits in Hindi

कपालभाति प्राणायाम के फायदे हिंदी में kapalbhati Pranayam karne ke fayde in Hindi

  • यह प्राणायाम के फायदे में से एक है चयापचय को बेहतर करना और वजन को कम करना।

  • शरीर के सभी गाड़ियों को शुद्ध करना।

  • पेट की मांसपेशियां इससे मजबूत होती है और यह डायबिटीज के लोगों को काफी मदद मिलती है।

  • पाचन अंगों को उत्तेजित करता है और शरीर में पूर्ण रूप से संचालन होता है।

  • मन को शांत करने में मदद मिलती है।

  • योन संबंधी कई सारी बीमारी इससे दूर हो जाती है।

  • योग और योगासन हिंदी में

कपालभाति प्राणायाम करने का सही तरीका हिंदी में kapalbhati Pranayam karne ka Sahi Tarika in Hindi

  • अगर आपको कपालभाति प्राणायाम करना सीखना है तो आपको नीचे दिए हुए जानकारी को ध्यान में रखना जरूरी है।

  • सबसे पहले आपको एक आरामदायक आसन पर बैठना चाहिए।

  • अब आप को शेर और रीढ़ की हड्डी को सीधा रखते हुए हाथों को घुटनों पर ध्यान की मुद्रा में रख लेना चाहिए।

  • आंख बंद करके पूरे शरीर को ढीला होने के लिए छोड़ देना चाहिए।

  • आप दोनों नासिका छिद्रों में आपको गहरी सांस लेकर पेट की मांसपेशियों को से करते हुए आपको सांस छोड़ना है लेकिन ध्यान रहे कि आपको सांस लेते वक्त आपको धीरे-धीरे सांस लेना है।

  • सांस लेने के बाद पेट की पेशियों पर बिना प्रयास लगाए आपको सांस लेना है और सासाराम से लेकर आराम से छोड़ना है। kapalbhati Pranayam steps and benefits in Hindi

  • यह शुरुआत में आपको 10 बार करना होगा।

  • इस क्रिया को आप 3 से 5 बार फिर से दोबारा सकते हैं।

  • यह प्रक्रिया पूरी होने के बाद आप शांत बैठ सकते हैं।

  • लिंग को बड़ा , मोटा और लंबा करने का तरीका हिंदी में

अगर आपको हमारा लिखा हुआ आर्टिकल अच्छा लगा तो प्लीज लाइक और शेयर जरूर कीजिए साथी हमारे अन्य आर्टिकल जरूर पढ़िए।

]]>
https://hindihealthtips.in/kapalbhati-pranayam-steps-and-benefits-in-hindi/.html/feed 0 1143
प्राणायाम हिंदी में Pranayama in Hindi https://hindihealthtips.in/pranayama-in-hindi/.html https://hindihealthtips.in/pranayama-in-hindi/.html#respond Wed, 31 Mar 2021 07:11:12 +0000 https://hindihealthtips.in/?p=1130 Read more

]]>
प्राणायाम कैसे करें Pranayama in Hindi प्राणायाम का  मतलब होता है कि सांस नियंत्रण करना इसी प्रक्रिया को प्राणायाम कहते हैं।हनीमून को देखकर आपको आसान लगेगा लेकिन इसके पीछे की बात कुछ और अली की है प्राणायाम दो शब्दों का मेल से बनाया गया हुआ शब्द है प्राण और आई एम इसका मतलब होता है .

Pranayama in Hindi
Pranayama in Hindi

प्राणायाम हिंदी में Pranayama in Hindi प्राणायाम कैसे करें

प्राणायाम Pranayama in Hindi प्राण का मतलब महत्वपूर्ण ऊर्जा शक्ति होती है वह शक्ति जो अपने सभी चीजों में मौजूद होती है चाहे वह जीवित हो या निर्जीव प्राणायाम अपने श्वास के माध्यम से ऊर्जा को पूरे शरीर की नाड़ियों तक पहुंचाना होता है एवं शब्द का अर्थ होता है नियंत्रण यानी योग में इसे विभिन्न नियमों का अचार को निरूपित करने के लिए प्रयोग किया जाता है।

प्राणायाम के प्रकार हिंदी में types of Pranayama in Hindi प्राणायाम कैसे करें

प्राणायाम के कुछ प्रमुख प्रकार नीचे दिए हुए हैं

नाड़ी शोधन प्राणायाम

शीतली प्राणायाम

उज्जाई प्राणायाम

कपालभाति प्राणायाम

भाह्य प्राणायाम

भांमरी प्राणायाम

प्राणायाम के लाभ हिंदी में benefits of Pranayam in Hindi

प्राणायाम Pranayama in Hindi से तनाव अस्थमा और भी के संबंधित बीमारियों से छुटकारा पाने में मदद मिलती है।

प्राणायाम से अवसाद का इलाज भी होता है।

प्राणायाम से इच्छा शक्ति प्राप्ति होती है।

प्राणायाम से शरीर में शक्ति बढ़ती है।

प्राणायाम से मन शांति मिलती है।

प्राणायाम से शरीर को सेहत मिलती है।

प्राणायाम के नियम हिंदी में Pranayam ke niyam in Hindi

प्राणायाम कब करना चाहिए और प्राणायाम करने का सही समय कौन सा है ?

पावन प्राणायाम Pranayama in Hindi करने का सबसे सही में सही समय होता है सुबह का खाली पेट करना प्राणायाम बहुत ही अच्छा मारा रहता है प्राणायाम को आप ताजी स्वच्छ हवा में कर सकते हैं इसलिए आपको सुबह का समय सबसे उचित माना जाता है प्राणायाम करने से पहले स्नान करना जरूरी है स्नान के बाद आप ताजा महसूस करेंगे उसी समय आपको प्राणायाम करना है।

प्राणायाम कहां करें ?

प्राणायाम करने के लिए आपको नैसर्गिक जगह चुन्नी चाहिए और खुली खुली खिड़कियां यानी छत पर भी आप कर सकते हैं नहीं तो आप पुराण पर भी कर सकते हैं जहां आपको ताजी हवा जरूरी होती है।

प्राणायाम करने के लिए कैसे बैठे ?

प्राणायाम करने के लिए आपको फर्श या चटाई पर योगा मैट भी जाना जरूरी है ध्यान रहे कि आप आसानी से बैठ पाए अगर आपको जमीन पर बैठने में परेशानी होती है तो आप कुर्सी लेकर बैठ सकते हैं।

यदि आपको हमारा लिखा हुआ टिकल अच्छा लगा तो प्लीज लाइक और शेयर जरूर कीजिए साथी हमारे अन्य आर्टिकल जरूर पढ़िए।

]]>
https://hindihealthtips.in/pranayama-in-hindi/.html/feed 0 1130
लिंग को बड़ा , मोटा और लंबा करने का तरीका हिंदी में ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi https://hindihealthtips.in/ling-ko-mota-lamba-aur-bada-karne-ka-tarika-in-hindi/.html https://hindihealthtips.in/ling-ko-mota-lamba-aur-bada-karne-ka-tarika-in-hindi/.html#respond Wed, 31 Mar 2021 06:16:59 +0000 https://hindihealthtips.in/?p=1109 Read more

]]>
आजकल लड़ बढ़ाने का उपाय ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi हर मर्द को एक ही दिमाग में तकलीफ होती रहती है कि वह किसी तरह अपने लिंग को लंबा करने का सोचता रहता है और आजकल इंटरनेट और कई सारे वेबसाइट पर भी यही सारे एड्स देखने को आपको मिलेंगे और आपको न्यूज़ पेपर में भी सभी जगह यही देखने को मिलेगा लेकिन आपको यह वेबसाइट वाले या एड्स वाले क्या आपको सही जानकारी देते हैं बिल्कुल नहीं यह सब आपको समझ करते हैं।

भारतीय पुरुषों के बीच अपने लिंग केling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi आकार को लेकर बहुत ही बड़ी गलतफहमियां मौजूद होती है वह कुछ गलत करते हैं और वह कुछ गलत तरीके अपनाकर अपने लिंग के साइज को बढ़ाने की कोशिश करते रहते हैं और कुछ ना कुछ उपाय खोजते रहते हैं। भारतीय पुरुषों में इस लिंग के आकार को बढ़ाने में काफी उत्सुकता देखी जाती है भारत में लिंग के साइज को बढ़ाने की दवाओं का उत्पादन का बाजार आज अरबों रुपए में पहुंच चुका है।

वैज्ञानिकों का या विशेषज्ञों का मानना है कि आप अपने लिंग ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi को छोटा समझ कर तनाव में रहने वाले अधिकतर पुरुषों की लिंग की लंबाई भी आप के समान ही होती है विशेषज्ञों का यह भी मानना है कि लिंग बढ़ाने और लंबा करने की दवा ओं का इस्तेमाल करने से पुरुषों को डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए नहीं तो इसके अलग परिणाम भी हो सकते हैं।

ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi
ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi

लिंग को बड़ा , मोटा और लंबा करने का तरीका हिंदी में ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi लड़ बढ़ाने का उपाय

पुरुषों में लिंग ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi का आकार बढ़ाना या लिंग बड़ा होना उनके दिमाग में वही सोच होती है लिंग का आकार आपके शरीर के आकार के अनुसार होता है लिंग का आकार को लेकर आपको परेशान नहीं होना चाहिए तो आपको किसी विशेषज्ञ के पास जाकर उससे बातचीत करके आपको आगे की सलाह लेनी चाहिए अगर देखा जाए तो लिंग के आकार को बढ़ाने के लिए उपाय काफी कम है सबसे आसान तरीका है आपको अपना वजन कम करके पीट रहे कर आप लिंग का साइज आसानी से बढ़ा सकते हैं या अपने लिंग को लंबा बड़ा मोटा कर सकते हैं।

पुरुषों के लिंग का आकार कितना होता है हिंदी में – ling ka Aakar kitna hota hai in Hindi

इंसानों के जब किशोरावस्था में होते हैं तो किशोरों में लिंग ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi की लंबाई का औसत आधार नहीं मापा जा सकता है क्योंकि यह हर किसी के बढ़ने की प्रक्रिया होती है और किसी के हर तरीका अलग होता है।

पुरुषों पर किए गए एक सर्वे के अनुसार पुरुषों के लिंग की औसत लंबाई

बिना तनाव व उत्तेजित की अवस्था में लंबाई 8 पॉइंट 12 सेंटीमीटर और 3.2 इंच सामान्य स्थिति में

बिना तनाव और उत्तेजना के वक्त की मोटाई 9 पॉइंट 14 सेंटीमीटर या 3 पॉइंट 6 इंच

तनाव और उत्तेजना के बाद की लंबाई 13 पॉइंट 1 सेंटीमीटर 5 पॉइंट 1 इंच

तनाव और उत्तेजना के बाद की मोटाई 11 पॉइंट 6 40 सेंटीमीटर या 4 पॉइंट 5 इंच

तनावपूर्ण लिंग ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi के आकार बहुत प्रकार के होते हैं कुछ टिप्स तनाव के वक्त सीधे हो जाते हैं जबकि कई लोगों के तनाव के बाद लिंग का साइज थोड़ा नीचे झुकता है और उसके दाएं और झुकता है तो कुछ के और भाई और झुकता है अगर यह दिखाओ ज्यादा होता है तो आपको सेक्स के दौरान दर्द मुश्किल पैदा हो सकती है।

व्यक्ति के अनुसार और उसके उम्र के अनुसार बुद्धि होने के अनुसार अलग-अलग प्रक्रिया में भिन्नता होती है इसके साथ ही इंसान के लिंग की लंबाई भी अलग-अलग हो जाती है वह क्या होने के दौरान या 11 से 18 वर्ष के उम्र के लोगों में लिंग का आकार तेजी से बढ़ने लगता है और इसके बढ़ने का सिलसिला २१ वर्षों तक चलता है।

ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi
ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi

क्या सेक्स के वक्त लिंग का साइज महत्व रखता है – kya ling ka size mahatva rakhta hai in Hindi

लिंग के आकार को लेकर पुरुषों में गैर समझ रहता है वह संतुष्टि पानी गडर उनके दिमाग में रहता है कुछ पुरुष कपड़े उतारने के बाद खुद के लिंग को देखकर चिंतित होने लगते हैं।

भारतीय पुरुषों में लिंग ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi का साइज उनका आत्मविश्वास और मर्दानगी का प्रतीक माना जाता है जो एकदम गलत धारणा उनके दिमाग में होती है भारतीय पुरुष के अनुसार लिंग का आकार की औसत लंबाई निर्भर होती है लिंग का साइज महत्व नहीं रखता बल्कि ऐसी बात है कि आप अपने साथी को संतुष्ट कर पाते हैं या नहीं यह सबसे महत्वपूर्ण बात होती है जो अपने लिंग के आकार के ऊपर निर्भर नहीं होती है जोकि अपने यौन तकनीक क्यों पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए।

अगर पुरुषों के लिंग ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi का आकार छोटा है तो वह तनाव में आते हैं मानसिक रूप से उनकी स्थिति भी खराब हो जाती है और वह अपने साथी को संतुष्ट नहीं कर पाते इसके साथ ही वह कई अन्य लोगों से भी पीड़ित होने लगते हैं अगर आप इस तरह से परेशान हैं तो आप किसी डॉक्टर से जरूर बात कीजिए।

पुरुष के लिंग बढ़ाने के घरेलू उपाय हिंदी में – ling badhane ke gharelu upay in Hindi

लिंग ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi का आकार बढ़ाने के बहुत सारे तरीके मौजूद है लेकिन कुछ इसमें से काम करते हैं और कुछ काम नहीं करते हैं अगर आपको अपने लिंग को लंबा और मोटा करना है तो आपको कुछ आवश्यक का मदद लेना होता है यह औषधियां आपके लिंग के आसपास के हिस्से का रक्त संचार बढ़ाने में मदद करती है जिससे आपके लिंग में तनाव और उत्तेजना पूरी तरह से उत्तेजित हो पाता है इससे आपका लिंग मोटा और लंबा हो जाता है इसके अलावा भी आप लिंग बड़ा करने के लिए योगा खानपान में भी बदलाव कर सकते हैं और वर्कआउट करने के बाद फिर रहकर भी अपने लिंग का साइज बड़ा और मोटा लंबा कर सकते हैं।

गोखरू –

यह एक औषधीय वनस्पति है यह गर्म क्षेत्र में मिल जाती है हमारे देश में जड़ी-बूटी को काफी महत्व प्राप्त है इससे आपको आपके शरीर को मजबूती मिलती है और कमजोरी दूर हो जाती है इसे ज्यादातर सर्दियों के मौसम में इस्तेमाल किया जाता है। यह आपके यौन क्रिया में काफी मददगार साबित होता है और यौन शक्ति और लिंग के आकार उसकी कठोरता को बढ़ाने में काम करता है।ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi

जिनसेंग –

जिंसेंग यह दक्षिण कोरिया में पाया जाता है साइबेरिया और उत्तर कोरिया में पाई जाने वाली है एक औषधीय वनस्पति है इस जड़ी बूटी में बहुत सारे तत्व मौजूद होते हैं जो नसों को ठीक करने का काम करते हैं उच्च अध्ययन में पता चला है कि यौन ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi क्रिया में आने वाली परेशानी को दूर करने में काफी हद तक मदद करता है जबकि इसके बहुत सारे चिकित्सक फायदे मौजूद हैं।

पुरुषों के लिंग का आकार बढ़ाने के घरेलू तरीके हिंदी में – ling ka Aakar badhane ke tarike in Hindi

लिंग को लंबा और मोटा और बड़ा करने के लिए कोई आज तक इलाज नहीं मौजूद हैआसानी से अपने लिंग को लंबा और मोटा कर सकेंगे।

धूम्रपान –

लिंग ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi का आकार उसकी उत्तेजना से पहले और उसके बाद में आपके शरीर में खून पर निर्भर करता है धूम्रपान इसके सेवन से आपके नसों की बीमारी का में बदलाव होता है जिससे आपके अंगों में रक्त प्रभावशाली तरीके से नहीं हो पाता है इससे लिंग के नशे में भी प्रभाव पड़ता है और ठीक से रखता प्रवाह नहीं हो पाने से आप तनावपूर्ण अवस्था में भी लिंग का साइज बड़ा नहीं हो पाता है।

व्यायाम –

अगर आप थोड़े से मोटे हैं या आप के हाल में चर्बी भरी पड़ी हुई है तो आपको रोजाना व्यायाम करने की जरूरत होगी जिससे कि आपका रक्त प्रवाह ठीक से हो जाएगा और उत्तेजना की स्थिति में आपका लिंग का साइज बड़ा हो जाएगा ठीक से पूरी तरह से रखता प्रवाह होने के कारण लिंग पूरी तरह से उत्तेजित होता है जिससे कि लिंग ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi का साइज बड़ा लगेगा इसके लिए आपको रोजाना व्यायाम करना जरूरी है।

पेट की चर्बी –

पेट की चर्बी भी बहुत बड़ी बात है क्योंकि पेट की चर्बी बढ़ जाने से आपका लिंग छोटा लग नहीं लगेगा पेट की चर्बी कम करने के लिए आपको ज्यादा परेशानी नहीं उठानी चाहिए क्योंकि आपको खाना या नहीं कैलोरीज कम करके भी आप अपना पेट की चर्बी को कम कर सकते हैं पेट की चर्बी को कम करने के बाद ही आपके लिंग की लंबाई में आपको बदलाव देखने को मिलेगा एक रिपोर्ट में पता चला है कि पुरुषों की कमर 32 की जगह वे 40 इंच की थी उसमें करीब 50% पुरुष ऐसे थे जिसके पेट की चर्बी के कारण उनका लिंग छोटा लग रहा था।

लिंग को लंबा करने का तरीका हिंदी में – ling ko Lamba karne ka Tarika in Hindi

लिंग ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi का आकार बड़ा करने का तरीका अगर आपको लिंग अपना बड़ा करना है तो उसके आसपास के बालम को आप को छोटा करना होगा यार अब छोटा करने की जरूरत है जिससे कि आपके लिंग की लंबाई दिखने लगेगी ।

लिंग का लंबा और मोटा दिखने के लिए तरीका जब आप अपने लिंग के आसपास के बालों को कम करते हैं तो आपको लिंग मोटा और लंबा दिखेगा और यह पहले से भी ज्यादा आकर्षक लिंग लगेगा इसके आकर्षक दिखने से आप में आत्मविश्वास आ जाएगा।

लिंग के साइज को पढ़ाने के लिए खानपान में क्या खाएं ling ke size ko badhane ke liye aahar in Hindi

आप अपने लिंग ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi को बड़ा करना चाहते हैं तो आपको अपने खान-पान में बदलाव करना होगा उसके साथ ही आपको डिलीवर एम करना होगा कुछ ऐसी चीजें हैं जिसका आप सेवन करके अपने लिंग का साइज बड़ा मोटा और लंबा कर सकते हैं और आपके लिंग में उत्तेजना बढ़ जाती है और उसका आकार भी बढ़ जाता है जिससे कि आपका लिंग का साइज बड़ा लगने लगेगा।ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi

प्याज –

विशेषज्ञों का मानना है कि कई तरह के शोध में पता चला है कि लिंग ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi का साइज लंबा और बड़ा करने के लिए आपको प्याज रोजाना खाना चाहिए प्याज में मौजूद तत्व खून को जमने से रोकते हैं जिससे कि रखता हर जगह पहुंच पाता है साथ ही हृदय से बहने वाली खून की नायिकाओं को सुचारू कर देते हैं जिससे कि आपका लिंग में साइज बढ़ने लगेगा।

केला –

खेला आपके दिल को और रक्त कोशिकाओं के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है यह एक बहुत ही उपयोगी पदार्थ माना जाता है इससे आपके लिंग का आकार को बढ़ने में मदद मिलती है।ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi

तरबूज –

तरबूज का सेवन करने से आपके लिंग में उत्तेजना आती रहती है तरबूज में अमीनो एसिड पाया जाता है जो नसों को फैलाओ को बनाए रखने में मदद करता है तो नाउ में तरबूज को पुरुषों के स्वास्थ्य के लिए भी काफी जरूरी माना जाता है।ling ko Mota Lamba aur bada karne ka Tarika in Hindi

अगर आपको हमारा लिखा हुआ आर्टिकल अच्छा लगा तो प्लीज लाइक और शेयर जरूर कीजिए साथ ही हमारे अन्य आर्टिकल जरूर पढ़िए।

]]>
https://hindihealthtips.in/ling-ko-mota-lamba-aur-bada-karne-ka-tarika-in-hindi/.html/feed 0 1109
योग और योगासन हिंदी में what is yoga in Hindi https://hindihealthtips.in/yoga-in-hindi/.html https://hindihealthtips.in/yoga-in-hindi/.html#comments Tue, 30 Mar 2021 06:27:58 +0000 https://hindihealthtips.in/?p=1094 Read more

]]>
योग क्या होता है ? Yoga meaning in Hindi ? What is yoga in Hindi ?

योगा yoga in Hindi यह सही तरीके से किए जाने वाले दैनंदिन जीवन की एक क्रिया मानी जाती है यह हमारे जीवन से जुड़े मानसिक भावनात्मक अध्यात्मिक पहलुओं के लिए काम करती है योगा का मतलब होता है कि बांधना एकता को बांधना इस शब्द की जड़ है संस्कृत शब्द इसका मतलब होता है जुड़ना।व्यावहारिक स्तर पर अगर देखा जाए तो योग शरीर मन भावनाओं को संतुलित करने के लिए तालमेल बनाने के लिए एक बहुत ही अच्छा साधन है यह योग एक आसान सी भाषा में समझे तो शरीर को सुदृढ़ रखने मन को शुद्ध रखने के लिए किया जाता है।

योग yoga in Hindi का सबसे अधिक लाभ होता है अपने शरीर के बाहरी हिस्से में होता है जो ज्यादातर लोगों के लिए व्यावहारिक दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण होता है इससे अंग की मांसपेशियां नसे अच्छी तरह से काम करती हैं।

इंसान की फिजिकल बॉडी में योग मानसिक और भावनात्मक स्तर पर काम करता है रोजमर्रा की जिंदगी से इंसान थक जाता है और तनाव में आ जाता है इसके लिए योग करना बहुत ही सुखद होता है जिससे तनाव भी कम होगा और आपका शरीर भी स्वस्थ रहेगा।

 yoga in Hindi
yoga in Hindi
Yoga quotes in Hindi – yoga in Hindi

योग विस्मरण में दफन एक प्राचीन मिथक नहीं है । यह वर्तमान की सबसे बहुमूल्य विरासत है आज की आवश्यकता है और कल की संस्कृति है। – स्वामी सत्यानंद सरस्वती

योगा के फायदे हिंदी में योग के लाभ हिंदी में benefits of yoga in Hindi – yoga asanas in Hindi

युवा के बहुत सारे लाभ होते हैं इसमें युवा के भी बहुत सारे प्रकार होते हैं अक्सर योगा के लाभ इंसान को शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ बनाने के लिए होता है शारीरिक और मानसिक उपचार से योग सबसे अधिक लाभ होता है इतना ही नहीं इंसान को शक्तिशाली और प्रभावी बनाता है।

योग yoga in Hindi से इंसान के अस्थमा मधुमेह रक्तचाप गठिया पाचन विकार और अन्य बीमारियों का उपचार उपलब्ध है खासतौर पर इंसान को मानसिक रूप से स्वस्थ बनाने के लिए योगा किया जाता है।

अधिकांश लोगों में देखा गया तो केवल तनावपूर्ण समाज में स्वास्थ्य बनाए रखने के लिए योग का उपयोग करते हैं अक्सर योगा का शरीर के लिए भी काफी फायदा होता है इंसान की बुरी आदत है छोड़ती है इंसान का एक अपना रूटीन बन जाता है जैसे कि सारे दिन कुर्सी पर बैठे रहना इंसान तक जाता है वह हम ना करना खानपान सही ना होना अगर आप योगा शुरू करेंगे तो यह आपके लिए काफी फायदेमंद साबित होगा।

योगा के इसके अलावा भी आध्यात्मिक लाभ भी बहुत सारे मौजूद हैं अगर इसका विवरण करना आसान नहीं होगा क्योंकि इसके बहुत सारे अलग-अलग तरीके से फायदे होते हैं अगर एक हिसाब से देखा जाएगा तो योग के अपने मानसिक भौतिक आत्मिक और आध्यात्मिक रूप से फायदे होते हैं।

योगा करने के नियम हिंदी में rules of yoga in Hindi

आप अगर युवा कर लेना चाहते हैं तो आपको योगा करने के लिए कुछ सरल नियमों का पालन करना चाहिए जिससे कि आपके शरीर को और मानसिक पूरा आपको फायदा मिले इसीलिए आपको योगा को नियम में रहते हुए ही करना होगा।

आपको किसी गुरु के निर्देशन में ही योगा का अभ्यास करना चाहिए।

सूर्योदय और सूर्यास्त के वक्त योगा का सबसे अच्छा समय माना जाता है।

योगा करने से पहले आपको स्नान जरूर करना चाहिए।

योगा को खाली पेट ही करना चाहिए और नाश्ते से पहले 2 घंटे पहले ही करना चाहिए।

योगा करने के लिए आपको सूती कपड़े पहनने चाहिए।

आपको योगा करने के लिए तन मन सच्चा होना चाहिए और बुरे ख्याल दिमाग में नहीं होने चाहिए।

आपका आसपास का वातावरण निसर्गरम्य होना चाहिए।

आपके आसपास का वातावरण शांत होना चाहिए।

आपका ध्यान एकाग्रता होना चाहिए।

आप जबरदस्ती योगा नहीं कर सकते।

आपको योगा धीरे-धीरे करना चाहिए।

आपको योगा करने के लिए रोज एक समय देना चाहिए।

आपको योगा करने के बाद 1 घंटे तक नहाना नहीं चाहिए और उसके साथ ही आपको खाना भी नहीं चाहिए।

योगा के प्रकार हिंदी में types of yoga in Hindi

योगा yoga in Hindi के प्रमुख रूप से अगर देखा जाए तो यहां पर चार प्रकार होते हैं।

राजयोग हिंदी मे rajyog in Hindi

इसका मतलब होता है कि शाही यह योग शाखा का सबसे महत्वपूर्ण अंग है इस योग में कुल आठ अंग होते हैं जिसके कारण इसका नाम अष्टांग पड़ा है इसे योग सूत्र में पतंजलि में उल्लेख किया जाता है यह आठ अंग इस प्रकार होते हैं यम शपथ लेना नियम आचरण करना आसन प्राणायाम स्वास्थ्य नियंत्रण करना प्रत्याहार इंद्रियों को नियंत्रण करना धारण एकाग्रता ध्यान मेडिटेशन और समाधि परमानंद या अंतिम मुक्ति राजयोग आत्मा विवेक और ध्यान करने के लिए होता है और व्यक्तियों को यह सबसे ज्यादा आकर्षित करता है आसान राजयोग सबसे ज्यादा प्रसिद्ध अंग होता है यहां पर सब से अधिकतर लोगों में योग का अर्थ आसन माना जाता है किंतु आर्सेनिक प्रकार योग का सिर्फ एक हिस्सा है योगासन अभ्यास में कई ज्यादा है।

कर्मयोग हिंदी में karmayog in Hindi

योगा yoga in Hindi का दूसरा प्रकार है कर्मयोग कर्मयोग का मतलब होता है कि हमें से इसमें से कोई भी इससे बच नहीं सकता कर्मयोग का सिद्धांत होता है कि जो भी हम अनुभव करते हैं वह अपने कार्यों या अतिथियों द्वारा बनाया जाता है इस बारे में जागरूक होने से वर्तमान में भविष्य अपना अच्छा बना सकते हैं जो हमें नकारात्मक और स्वास्थ्य होने से मुक्त करता है परमात्मा आरोही कार्रवाई का एक मार्ग है जब भी अपना हम काम करते हैं तो अपना जीवन निस्वार्थ रूप से जीते हैं दूसरी की सेवा करना और करते हैं ऐसे ही हम कर्मयोग कहते हैं।

भक्ति योग हिंदी में bhakti yog ine Hindi

भक्ति योग yoga in Hindi यह भक्ति ओं का वर्णन करने के लिए योग बनाया गया है सभी के लिए सृष्टि और परंपरा को देखकर भक्ति योग का और लोगों को भावनाओं को नियंत्रण करने के लिए यह एक सकारात्मक तरीका माना जाता है भक्ति का मार्ग हमें सभी के लिए स्वीकार्यता और सहिष्णुता पैदा करने का अवसर देता है।

ज्ञान योग हिंदी में Gyan yog in Hindi

अगर हम भक्ति को मन से योगा मानते हैं तो ध्यान योग बुद्धि का योग होता है यह बुद्धि के लिए किया जाने वाला योग होता है ध्यान योगा सबसे कठिन योगा में से माना जाता है साथ ही साथ सबसे प्रत्यक्ष भी इसे किया जाता है इच्छुक होते हैं इसे वही लोग कर पाते हैं।

योग कब करें और योगा करने का सही समय क्या है हिंदी में ? – what is the best time of practice yoga in Hindi

योगा yoga in Hindi करने का सबसे सही समय होता है सूर्योदय उसे एक घंटा या दो घंटा पहले अगर आप आपके मुमकिन ना हो तो आप सूर्यास्त के समय भी योगा कर सकते हैं इसके अलावा और भी बातें हैं जिसको आप को ध्यान में रखना चाहिए।

आपको दिन में एक समय निर्धारित करना होता है।

सब आसन किसी योगा मैट की आपको बिछाकर ही करना जरूरी है।

आप योगा किसी खुले जगह में कर सकते हैं जैसे कि निसर्गरम्य जगह यानी पार्क खुली जगह छत पर भी आप कर सकते हैं एक बात का आपको जरूर ध्यान रखना चाहिए कि आपको खुलकर सांस लेना चाहिए उसी खुली जगह में आपको करना चाहिए।

योगासन की सूची हिंदी में list of yoga poses in Hindi

]]>
https://hindihealthtips.in/yoga-in-hindi/.html/feed 1 1094