प्राणायाम हिंदी में Pranayama in Hindi

Spread the love

प्राणायाम कैसे करें Pranayama in Hindi प्राणायाम का  मतलब होता है कि सांस नियंत्रण करना इसी प्रक्रिया को प्राणायाम कहते हैं।हनीमून को देखकर आपको आसान लगेगा लेकिन इसके पीछे की बात कुछ और अली की है प्राणायाम दो शब्दों का मेल से बनाया गया हुआ शब्द है प्राण और आई एम इसका मतलब होता है .

Pranayama in Hindi
Pranayama in Hindi

प्राणायाम हिंदी में Pranayama in Hindi प्राणायाम कैसे करें

Table of Contents

प्राणायाम Pranayama in Hindi प्राण का मतलब महत्वपूर्ण ऊर्जा शक्ति होती है वह शक्ति जो अपने सभी चीजों में मौजूद होती है चाहे वह जीवित हो या निर्जीव प्राणायाम अपने श्वास के माध्यम से ऊर्जा को पूरे शरीर की नाड़ियों तक पहुंचाना होता है एवं शब्द का अर्थ होता है नियंत्रण यानी योग में इसे विभिन्न नियमों का अचार को निरूपित करने के लिए प्रयोग किया जाता है।

प्राणायाम के प्रकार हिंदी में types of Pranayama in Hindi प्राणायाम कैसे करें

प्राणायाम के कुछ प्रमुख प्रकार नीचे दिए हुए हैं

नाड़ी शोधन प्राणायाम

शीतली प्राणायाम

उज्जाई प्राणायाम

कपालभाति प्राणायाम

भाह्य प्राणायाम

भांमरी प्राणायाम

प्राणायाम के लाभ हिंदी में benefits of Pranayam in Hindi

प्राणायाम Pranayama in Hindi से तनाव अस्थमा और भी के संबंधित बीमारियों से छुटकारा पाने में मदद मिलती है।

प्राणायाम से अवसाद का इलाज भी होता है।

प्राणायाम से इच्छा शक्ति प्राप्ति होती है।

प्राणायाम से शरीर में शक्ति बढ़ती है।

प्राणायाम से मन शांति मिलती है।

प्राणायाम से शरीर को सेहत मिलती है।

प्राणायाम के नियम हिंदी में Pranayam ke niyam in Hindi

प्राणायाम कब करना चाहिए और प्राणायाम करने का सही समय कौन सा है ?

पावन प्राणायाम Pranayama in Hindi करने का सबसे सही में सही समय होता है सुबह का खाली पेट करना प्राणायाम बहुत ही अच्छा मारा रहता है प्राणायाम को आप ताजी स्वच्छ हवा में कर सकते हैं इसलिए आपको सुबह का समय सबसे उचित माना जाता है प्राणायाम करने से पहले स्नान करना जरूरी है स्नान के बाद आप ताजा महसूस करेंगे उसी समय आपको प्राणायाम करना है।

प्राणायाम कहां करें ?

प्राणायाम करने के लिए आपको नैसर्गिक जगह चुन्नी चाहिए और खुली खुली खिड़कियां यानी छत पर भी आप कर सकते हैं नहीं तो आप पुराण पर भी कर सकते हैं जहां आपको ताजी हवा जरूरी होती है।

प्राणायाम करने के लिए कैसे बैठे ?

प्राणायाम करने के लिए आपको फर्श या चटाई पर योगा मैट भी जाना जरूरी है ध्यान रहे कि आप आसानी से बैठ पाए अगर आपको जमीन पर बैठने में परेशानी होती है तो आप कुर्सी लेकर बैठ सकते हैं।

यदि आपको हमारा लिखा हुआ टिकल अच्छा लगा तो प्लीज लाइक और शेयर जरूर कीजिए साथी हमारे अन्य आर्टिकल जरूर पढ़िए।

Leave a Comment